NCR Planning Board बनाने का एक मुख्य मकसद था दिल्ली के मुख्य बजारों, कम्पनियों और सरकारी महकमो का विकेंद्रियकरण करना।

मतलब, जो माल कनौट प्लेस में मिलता है वो दिल्ली के NCR क्षेत्र में (सोनीपत, गुडगाँव, पलवल, गाजियाबाद) में भी उसी दाम पर उपलब्ध हो, कंपनियोँ में काम करने वाले दिल्ली ना भागें, सरकारी कामकाज के लिए हर बार दिल्ली ही ना भागा जाए

NCR Planning Board बनाने का एक मुख्य मकसद था दिल्ली के मुख्य बजारों, कम्पनियों और सरकारी महकमो का विकेंद्रियकरण करना।

मतलब, जो माल कनौट प्लेस में मिलता है वो दिल्ली के NCR क्षेत्र में (सोनीपत, गुडगाँव, पलवल, गाजियाबाद) में भी उसी दाम पर उपलब्ध हो, कंपनियोँ में काम करने वाले दिल्ली ना भागें, सरकारी कामकाज के लिए हर बार दिल्ली ही ना भागा जाए

जिससे की ~
1. NCR की भीड़ दिल्ली में ना आये.
2. आस पास के रहने वालों को बराबर काम व नौकरियों के अवसर मिलें
3. दिल्ली में ट्रैफिक ना बढे
4. बाकी राज्यों के लोग दिल्ली माइग्रेट ना हों
5. दिल्ली का प्रदूषण स्तर ना बढे

ये पढ़ें- https://goo.gl/sL7CpG

लेकिन NCR Planning Board ने कुछ और ही बना दिया. आज हालत ये है की दिल्ली से सौ सौ किलोमीटर दूर रहने वाले लोग सुबह उठते हैं और ट्रेनों, बसों, कारों में भरकर दिल्ली की और भागते है. शाम को फिर वापिस अपने अपने घरों की और भागते हैं. जो डेली आना जाना नहीं कर पाते, वो यहीं बस जाते हैं. आज NCR Planning Board की गलती ने क्या हाल कर दिया है दिल्ली का.चंद अफसरों की गलतियों के कारण-

1 पूरे देश की GDP पर असर आ रहा है.
2 छोटे शहरों से बहुत तेजी से लोग पलायन कर रहे हैं जिससे की पूरी अर्थव्यव्स्था हिल रही है
3 सांस लेने तक की जगह नहीं मिलती दिल्ली में.
4 दिल्ली के लोगों की औसत आयु तेजी से घट रही है.
5 यहाँ के जन जीवन में बहुत ही ज्यादा भाग दौड पैदा हुयी है.लोगों के जीवन से सुख चैन लगभग गायब ही हो चुका है.
6 दिल्ली और NCR का प्रदूषण स्तर लगातार बढ़ता ही जा रहा है.
7 बेकार के खर्चे बढे हैं.
8 जिन शहरों की तरक्की के लिए NCR Planning Board बनाया गया था, वो उलटे डूबते जा रहे हैं.

मुसीबत ये है की कोई भी सरकार इस और ध्यान नहीं दे रही है बल्की मेट्रो को फैला कर असल में इस गलती को और बड़ा करते जा रहे हैं.  इस गलती को NCR Planning Board को मानना पडेगा और NCR का विकेंद्रियकरण करना ही पडेगा.

main-page


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

News & Updates

आखिर क्यों ख़तम करवाने में लगे हैं अरावली को नेता और सरकारी अफसर

​दिल्ली एनसीआर के एकमात्र बचे जंगल – अरावली क्षेत्र को आज ज्यादातर नेता और सरकारी अफसर एकजुट होकर बेचने और इसे ‘जंगल ना होने’ का तमगा देने में लगे हैं जो की आने वाले समय Read more…

News & Updates

अरावली की सच्चाई, जो हर किसी को पता होनी चाहिए।

दिल्ली एनसीआर की अरावली पर्वतमाला जो कि यहाँ की लाइफलाइन मानी जाती है, आजकल बिल्डरों और माफिया की गिरफ्त में आने के कारण काफी चर्चा में है जिसको ‘सेव अरावली’ और उसकी सहयोगी संस्थायें एवं Read more…

Uncategorized

Aravali Yatra is on 29th January

Zero budget weekend tour. No day-long travelling. No carbon emission. No office leave required. Happening monthly. Great learning. Great opportunity to participate in environment conservation. Unexplored locations of Delhi NCR. its Aravali Yatra – organized Read more…