भोजन पानी आदि की तलाश में जंगल में भटक भटक रहे बेक़सूर तेंदूए को आज सुबह गुडगाँव फरीदाबाद बॉर्डर पर अरावली में बसे गाँव मंडावर के लोगों ने लाठियों से पीट पीट कर मार डाला.

पिछले दो सालों में इस इलाके में तेंदुए की ये चौथी मौत है. गौर तलब है की पिछले कुछ दिनों पहले ही कुछ अखबारों में अरावली में तेंदुआ देखे जाने की खबर को छापा था जिसके बाद ग्रामीणों ने हर तेंदुए जैसे जानवर को अपना शिकार बनाने की कोशिश करनी शुरू कर दी थीं. आज की घटना में भी लोगों ने पुलिस और वन विभाग के लोगों के साथ खूब हाथापाई की और अंततः तेंदुए को मार डाला.

इतना होने के बावजूद भी पर्यावरण मंत्रालय की और से इस पर कोई ठोस कदम नहीं उठाये जा रहे हैं.

 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Uncategorized

Aravali Yatra is on 29th January

Zero budget weekend tour. No day-long travelling. No carbon emission. No office leave required. Happening monthly. Great learning. Great opportunity to participate in environment conservation. Unexplored locations of Delhi NCR. its Aravali Yatra – organized Read more…

Uncategorized

Seeking support from all of you

  Yes, lets do our part. We are doing a special drive in which we shall water the plants on the Surajkund road, Pali road and Gurgaon road of Faridabad. We are seeking support from Read more…

Uncategorized

Application sent to an International Competition by DublDom

The proposal is regarding the initiative of Save Aravali to develop ecotourism spots in Aravali range to connect the masses with nature. Lack of exposure and absence of empathy in residents of Delhi  NCR for Read more…